You are currently viewing क्रेडिट कार्ड क्या होता है, Credit Card Kya Hota Hai? (Full Guide 2022)

क्रेडिट कार्ड क्या होता है, Credit Card Kya Hota Hai? (Full Guide 2022)

क्रेडिट कार्ड का उपयोग दुनियाभर में कई सालों से होता रहा हैं लेकिन वर्तमान समय में इसका प्रचलन काफी तेजी बढ़ रहा हैं। तो अगर आप भी क्रेडिट कार्ड का यूज़ करना चाहते हैं तो आपको पहले इसके बारे में जानकारी होना जरुरी हैं।

इसलिए आज मैं आपके लिए क्रेडिट कार्ड से जुडी सभी जानकारियां इसी एक ही पोस्ट में शेयर करने वाला हूं जैसे कि क्रेडिट कार्ड क्या होता है (Credit Card Kya Hota Hai?) क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं, Credit Card Ke Fayde Aur Nuksan तथा Credit Card Kaise Banaye?

तो फ्रेंड्स, Credit Card के बारे में सबकुछ विस्तार से जानने के लिए आप इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े। आईये इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

क्रेडिट कार्ड क्या होता है, Credit Card Kya Hota Hai?

तो फ्रेंड्स, Credit Card को समझने से पहले हम Debit Card को समझते हैं। आप एटीएम कार्ड के बारे में तो जानते ही होंगे और शायद उसका उपयोग भी आप जरूर करते होंगे। एटीएम कार्ड को हम Debit Card भी कहते हैं।

जब भी आपको पैसे की जरूरत होती है तब आप ATM Card यानि Debit Card से पैसा निकालते हैं या कभी कभी किसी को Online Payment भी करते हैं। तब ये पैसा आपके Bank Account से ही कटता हैं।

यानि सीधे शब्दों में कहें तो आप उतना ही पैसा एटीएम से निकाल सकते हैं या Online Payment कर सकते हैं जितना पैसा आपके Bank Account में होता हैं। इसीलिए इसे डेबिट कार्ड कहा जाता हैं। डेबिट का मतलब हैं जमा पूंजी।

अब बात करते हैं कि क्रेडिट कार्ड क्या होता है? तो क्रेडिट का मतलब होता हैं उधार। यानि सीधे शब्दों में कहें तो उधार देने वाला कार्ड।

तो क्रेडिट कार्ड एक ऐसा फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट होता हैं जो आपके बैंक अकाउंट में पैसा न होने पर भी आपको एक प्री-सेट क्रेडिट लिमिट तक Cashless Transaction करने की सुविधा प्रदान करता हैं।

ये Credit Limit सबकी अलग अलग होती हैं जैसे 25 हजार, 50 हजार, 1 लाख रूपये या इससे ज्यादा हो सकती हैं। इसे बैंक द्वारा आपकी Payment की Ability को ध्यान में रखकर निर्धारित किया जाता हैं।

क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करने के बाद इस पैसे को चुकाने के लिए बैंक द्वारा 45 दिनों का क्रेडिट-फ्री पीरियड मिलता हैं। अर्थात आपने जितने अमाउंट का ट्रांसेक्शन आपने अपने क्रेडिट कार्ड के माध्यम से किया हैं उस अमाउंट को 45 दिनों के अंदर Pay कर सकते हैं। इस अवधि के दौरान बैंक आपसे कुछ भी पैसा चार्ज नहीं करेगा।

लेकिन यदि आप इस अवधि के बाद अपने बिल का भुगतान करते हैं तो उस अमाउंट पर बैंक आपसे बहुत ज्यादा चार्ज वसूलेगा।

Credit Card Ke Prakar:

क्रेडिट कार्ड क्या होता है (Credit Card Kya Hota Hai?) क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं, Credit Card Ke Fayde Aur Nuksan तथा Credit Card Kaise Banaye?
Credit card ke prakar

क्रेडिट कार्ड कई प्रकार के होते हैं। जैसे:-

  • रिवॉर्ड क्रेडिट कार्ड
  • सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड
  • कम ब्याज़ वाले क्रेडिट कार्ड
  • कैशबैक क्रेडिट कार्ड
  • स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड
  • ट्रैवल क्रेडिट कार्ड
  • बिज़नेस क्रेडिट कार्ड

Credit Card Kaise Banaye?

क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीके हैं। ऑफलाइन के अंतर्गत आप अपने बैंक में जाकर वहां किसी Credit Card Agent या Seller से contact करके इसके बारे में सारी जानकारी प्राप्त करें।

यदि आप Credit Card के लिए Eligible होंगे तो वो आपको कुछ फॉर्म भरने को देगा जिन्हें आपको पूरी तरह से भरकर बैंक में Submit कर देना हैं।

ऑनलाइन तरीके के अंतर्गत आप बैंक या NBFC की ऑफिसियल वेबसाइट से जानकारी प्राप्त करके Online Apply कर सकते हैं।

अप्लाई करने के लगभग 1 सप्ताह बाद आपका क्रेडिट कार्ड आपके Address पर पहुँचा दिया जायेगा। यदि आप ग्रामीण इलाके में रहते हैं तो इसमें 1 से 2 हफ्ते का समय भी लग सकता हैं।

Credit Card Ke Fayde Aur Nuksan:

Credit Card Ke Fayde:

  • यह Buy Now and Pay Later का एक अच्छा माध्यम हैं।
  • क्रेडिट कार्ड का अमाउंट आपकी Credit Limit से कटता हैं न कि आपके बैंक अकाउंट से।
  • इससे आप 45 दिनों तक इंटरेस्ट फ्री अमाउंट यूज़ कर सकते हैं।
  • क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करने या ऑनलाइन पेमेंट करने पर कई Rewards भी मिलते हैं जिन्हें आप अगली Purchasing पर Redeem भी करा सकते हैं। इससे आपके पैसे की बचत होती हैं।
  • इससे आपका Credit Score भी मजबूत होता हैं।
  • Online Transaction के लिए क्रेडिट कार्ड ज्यादा Safe माना जाता हैं।
  • बिल पे करते समय आप Full Amount की जगह Minimum Pay out भी जमा कर सकते हैं।
  • किसी भी Emergency में Credit Card बहुत हेल्प करता हैं।

Credit Card Ke Nuksan:

  • क्रेडिट कार्ड से Minimum Amount Pay करने पर कंपनियां शेष राशि पर बहुत ज्यादा ब्याज वसूलती हैं। इसलिए हमेशा Full Amount ही जमा करने की कोशिश करनी चाहिए।
  • क्रेडिट कार्ड पर कंपनियां हर साल चार्ज वसूल करती हैं जो नॉर्मली 500 से लेकर 5000 तक होता हैं। यह आपके क्रेडिट कार्ड के प्रकार और आपकी क्रेडिट लिमिट पर निर्भर करता हैं।
  • क्रेडिट कार्ड से अनावश्यक खर्च करने की लत लग जाती हैं।
  • समय से बिल का भुगतान न करने पर अगले महीने बहुत ज्यादा ब्याज के साथ बिल का भुगतान करना पड़ता हैं।
  • ऑनलाइन शॉपिंग के समय जो Reward Point मिलते हैं उन्हें सही से यूज़ न करने की स्थिति में वो सब अपने आप Expire हो जाते हैं।
  • समय से बिल न चुकाने पर आपका Credit Score कम होने लगता हैं।

तो फ्रेंड्स, ये थी जानकारी Credit Card के बारे में जिसमें आपने जाना कि क्रेडिट कार्ड क्या होता है (Credit Card Kya Hota Hai?) क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते हैं, Credit Card Ke Fayde Aur Nuksan तथा Credit Card Kaise Banaye?

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। इसी तरह की फाइनेंस और बिज़नेस से रिलेटेड नई पोस्ट का नोटिफिकेशन प्राप्त करने के लिए हमारे इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करना न भूले।

आप ये भी जरूर पढ़े:

Leave a Reply