You are currently viewing Crowdfunding Kya Hai | क्राउड फंडिंग किसे कहते हैं? (Best Guide 2022)

Crowdfunding Kya Hai | क्राउड फंडिंग किसे कहते हैं? (Best Guide 2022)

इस आर्टिकल में आज आप जानेंगे कि Crowdfunding Kya Hai या क्राउड फंडिंग किसे कहते हैं, क्राउड फंडिंग कितने प्रकार की होती हैं और नये बिज़नेस के लिए ये क्यों फायदेमंद हैं? इसकी पूरी जानकारी के लिए आप ये लेख अंत तक जरूर पढ़े:

Crowdfunding Kya Hai? (क्राउड फंडिंग किसे कहते हैं)

क्राउडफंडिंग किसी भी विशेष प्रोजेक्ट, बिज़नेस या सामाजिक कल्याण के लिए Fund (धन) जुटाने का जरिया हैं जिसके माध्यम से आप कई लोगों से छोटी-छोटी मात्रा में पूंजी इकट्ठा कर सकते हैं।

इसके अंतर्गत वेब आधारित प्लेटफॉर्म और Social Media का इस्तेमाल किया जाता हैं। देश में यह लगभग 300 करोड़ की Industry हैं।

Social Media का बढ़ता इस्तेमाल इसकी एक मुख्य वजह हैं। 2022 तक देश में Internet Users की संख्या लगभग 830 मिलियन हो जाएगी। अकेले फेसबुक के देश में 270 मिलियन users हैं।

इसके अलावा World Bank की Report के मुताबिक, Crowdfunding हाल में एक Multi Billion Dollar Global Industry के रूप में उभरी हैं। अनुमान लगाया जा हैं कि यह Industry 2030 तक 300 Billion Dollar की हो जाएगी।

ऐसे में अलग-अलग Sector जैसे मेडिकल, आईटी, एंटरटेनमेंट जैसे कई क्षेत्रों में Crowdfunding का इस्तेमाल करते हुए Entrepreneur अपने Ventures की शुरुआत कर रहे हैं। जानिए आप अपने Business में कैसे Crowdfunding का इस्तेमाल कर सकते हैं-

Crowdfunding के प्रकार:

1. Donation-Based Crowdfunding:

इस प्रकार की Crowdfunding में कैंपेनर को Investors को पैसा लौटाना नहीं होता हैं। इस तरह की Funding मेडिकल, नॉन प्रॉफिट, चैरिटी व आपदा राहत के लिए हैं।

2. Reward Based Crowdfunding:

Crowdfunding के इस प्रकार में लोग आपके Business में मदद करने के बदले में Rewards चाहते हैं। यह भी Donation आधारित Crowdfunding की तरह ही हैं।

इसमें Fund या Equity Returns नहीं होते। न्यूयॉर्क स्थित Statue of Liberty को पहला Reward आधारित Crowdfunding Campaign माना जाता हैं जहां Newspaper Publisher जोसेफ पुलित्जर ने पेडेस्टल (मूर्ति तल) निर्माण के लिए लोगों से डोनेशन देने को कहा और बदले में उनका नाम अपने अखबार में फ्रंट पेज पर छापने को ऑफर दिया।

इसी तरह किक स्टार्टर एक प्रचलित प्लेटफार्म हैं, जो आर्टिस्ट, म्यूजिशियन, फिल्ममेकर व डिज़ाइनर्स को फिल्म, म्यूजिक, आर्ट, गेम्स, टेक्नोलॉजी व डिज़ाइन के क्षेत्र में फंडिंग उपलब्ध करवाने का काम करता हैं।

3. Equity Based Crowdfunding:

इस तरह Crowdfunding किसी Company को Launch करने या ग्रोथ के लिए पैसा जुटाने के लिए की जाती हैं। यह एक Creative Project को शुरू करने में मदद देती हैं और investors भी यहां Owner होते हैं।

इक्विटी आधारित क्राउडफंडिंग में Contributors आपकी कंपनी में ओनरशिप में शेयर की डिमांड करते हैं। हालाँकि भारत में यह वैध नहीं हैं लेकिन अमेरिका व यूरोप में बड़ी संख्या में आंत्रप्रेन्योर्स इसका फ़ायदा ले सकता हैं।

4. Debt Based Crowdfunding:

इसे पीअर टू Crowdfunding भी कहा जाता हैं जिसका अर्थ हैं ऐसी फंडिंग, जहां इन्वेस्टर्स निश्चित ब्याज पर अपना पैसा आंत्रप्रेन्योर्स को अवधि विशेष के लिए उधार देते हैं।

क्राउड फंडिंग कैंपेन कैसे करें?

इसके लिए सबसे पहले आपके पास एक Specific Project और उद्देश्य होना चाहिए। यह कोई नई Service, नया Product या कोई Event हो सकता हैं।

इसकी एक निर्धारित समय सीमा तय करें। अपनी जरूरत के हिसाब से एक Realistic Budget तैयार करें। साथ ही आपको यह बताना होगा कि वह पैसा आप कहां खर्च करने वाले हैं।

Crowdfunding Kya Hai या क्राउड फंडिंग किसे कहते हैं, क्राउड फंडिंग कितने प्रकार की होती हैं
Crowdfunding Kya Hai

Funds के साथ-साथ आप लोगों से उनका समय और उनकी Skills की मदद भी मांग सकते हैं। इस बेसिक तैयारी के बाद अपने Idea की पिचिंग करें।

इसके लिए आपको अपना एक Video बनाना होगा जिसमें अपने Project की पूरी जानकारी देने के साथ आपको यह भी बताना होगा कि आपको कितना पैसा चाहिए और उस पैसे का आप किस तरह उपयोग करेंगे।

ध्यान रखें कि आपकी आईडिया पिचिंग क्लियर होने के साथ-साथ लोगों का ध्यान आकर्षित करने में भी सक्षम हो। वीडियो को Crowdfunding Platform पर Upload करने के बाद Response आना शुरू हो जायेगा।

कौनसे क्षेत्रों में मिल रही है मदद:

सोशल और कम्युनिटी डेवलपमेंट प्रोजेक्ट्स के लिए Crowdfunding की मदद अक्सर आसानी से मिल जाती हैं। सोशल आंत्रप्रेन्योरशिप के क्षेत्र में अगर आपके पास यूनिक आईडिया हैं तो आपको Funding मिलने में ज्यादा परेशानी नहीं आएगी।

इसके अलावा Film व Entertainment के क्षेत्र में भी आप Crowdfunding की मदद ले सकते हैं। वैसे Film Industries में 1990 से ही Crowdfunding का दौर शुरू हो गया था जब फैन्स, फिल्ममेकर्स को आर्थिक सहयोग देते थे।

आज Crowdfunding फिल्ममेकर्स, म्यूजिक प्रोड्यूसर्स, आर्टिस्ट आदि के लिए Funds जुटाने का मुख्य जरिया हैं। इसकी मदद से नए Producer व Directors इनोवेटिव आइडियाज पर काम कर सकते हैं।

Creative Entrepreneurship के लिए यह एक अच्छा Source हैं। इसी तरह Healthcare, IT आदि कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां आप Crowdfunding की मदद से अपने Business को जमा सकते हैं

Crowdfunding के लिए आप इन Portals की मदद ले सकते हैं:

  • https://www.impactguru.com/
  • https://milap.org/
  • https://www.catapooolt.com/
  • https://www.wishberry.in
  • https://www.ketto.org/

तो फ्रेंड्स इस लेख में आपने जाना कि Crowdfunding Kya Hai या क्राउड फंडिंग किसे कहते हैं, क्राउड फंडिंग कितने प्रकार की होती हैं और ये बिज़नेस के लिए क्यों फायदेमंद हैं?

अगर ये जानकारी आपको पसंद आयी हो तो इसे शेयर करके अन्य लोगों तक जरूर पहुंचाए। यदि इस पोस्ट से रिलेटेड आपके कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

आप ये भी जरूर पढ़े:

Leave a Reply