You are currently viewing कॉपीराइट क्या होता है | ट्रेडमार्क क्या है | पेटेंट क्या होता हैं?(Updated 2022)

कॉपीराइट क्या होता है | ट्रेडमार्क क्या है | पेटेंट क्या होता हैं?(Updated 2022)

आज इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं कि कॉपीराइट क्या होता है, ट्रेडमार्क क्या है और पेटेंट क्या होता हैं? और ये किसी भी Entrepreneur या Business के लिए क्यों जरुरी होते हैं?

आईये विस्तार से जानते हैं-

जैसा कि आप सब जानते ही होंगे कि आजकल के दौर में किसी भी चीज की सुरक्षा कितनी जरुरी होती हैं। ठीक वैसे ही Business के लिए Security बहुत जरुरी होती हैं, क्यूंकि आपका Business आपके लिए एक Brand हैं और Property भी हैं और ऐसे में आप ये बिल्कुल भी नहीं चाहेंगे कि आपके इस Brand और Property को कोई नुक्सान पहुंचाए या आपसे छिन ले।

इसलिए ये जरुरी हो जाता हैं कि किसी भी Business को start करने से पहले उससे related कुछ जरुरी चीजें या Property secure कर लेना चाहिए ताकि future में आपको अपने business में कोई problem न हो।

आपका कोई भी Artist Work, Symbol, Name, Image, Invention, Book, Painting, Computer Code हो। ये सब Intellectual Property(IP) के अंतर्गत आते हैं और इन IP को register करवाना बहुत जरुरी होता हैं। IP को register करने के लिए Trademark, Patent और Copyright का use किया जाता हैं।

प्रत्येक Businessman या Entrepreneur को इनके सभी trems के बारे में जानना बहुत जरुरी हैं क्यूंकि इनकी जानकारी के बिना अगर आप बिज़नेस करते हैं तो हो सकता हैं कि आपको नुकसान भी उठाना पड़ सकता हैं।

अगर आपके पास अपनी Intellectual Property (IP) से सम्बंधित अधिकार (Rights) होते हैं तो इससे कोई भी आपकी उस Property का दुरूपयोग (Misuse) नहीं कर सकता।

इसलिए आपको अपने सभी Intellectual Properties को सुरक्षित करवाने के लिए Indian Government के Controller General of Patents, Design and Trademarks के यहाँ Register करवाना जरुरी हैं।

Note:-अगर आप अपनी किसी Intellectual Property को register करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ज्यादा देर न करते हुए जल्दी इस काम को कर लेना चाहिए क्यूंकि आपको नहीं पता कि Govt. के पास ऐसे same ideas के लिए आपसे पहले ही कोई apply कर चुका हो। ये भी हो सकता हैं कि same time एक ही idea के लिए 2 application पहुँच जाये और ऐसी condition में उसे पहले प्राथमिकता (priority) मिलती हैं जो पहले पहुंची हैं।

सभी प्रकार के Creative Professionals जैसे Writer, Architect, Artist, Choreographer आदि, ये सभी अपने काम को register करवा सकते हैं।

कॉपीराइट क्या होता है, what is copyright
कॉपीराइट क्या होता है?

जब आप अपने Idea को Physical Form में ले आते हैं तब आप उसे Register करवा Copyright ले सकते हैं। दुनियाभर में कई लोग अपने कलात्मक कार्यों के लिए Copyright लेते हैं जैसे Movies, Sculpture, Photographs, Architectural Work, Writing, Choreography आदि।

Copyroght एक तरह का legal Evidence होता हैं जो कि आपको अपने Product का मालिकाना हक़ भी देता हैं। ये आपकी पूरी ज़िंदगी भर के लिए मान्य (Valid) होता हैं।

Patent क्या होता हैं?

सभी Type की Industry या आविष्कार (Invention) की सुरक्षा और Ownership के लिए Petent किया जाता हैं। इसलिए अगर आपके पास कोई Industry है या आपने किसी भी चीज का आविष्कार (Invention) किया हैं तो आप उसका मालिकाना हक़ और उसकी सुरक्षा के लिए Patent जरूर करवाए।

पेटेंट क्या होता हैं?, what is patent rights
पेटेंट क्या होता हैं?

ऐसा करने से आपको उस Property के Exclusive Rights भी प्राप्त हो जाते हैं। Patent आपके Product का कई प्रकार से दुरूपयोग (Misuse) होने से रोकता हैं जैसे – Product को बनाना, Sell करना, Import करना या Use करना इत्यादि।

किसी भी आविष्कार (Invention) के लिए Patent की अवधि अधिकतम 20 साल के लिए होती हैं। इसके बाद इसे फिर से renew करवाना होता हैं।

Trademark क्या होता हैं?

Trademark का मतलब वो Unique Symbol होते हैं जो किसी भी Product या Service को एक अलग पहचान देते हैं जैसे किसी Company का Logo या Slogan.

ट्रेडमार्क क्या है, what is trademark
ट्रेडमार्क क्या है?

इसलिए सभी New Businessman या Entrepreneurs के लिए अपने Product या Service की सुरक्षा के लिए Trademark करवाना जरुरी होता हैं ताकि अपने Brand का Name, Slogan, Symbol या Image की सुरक्षा हो सकें।

Trademark सुरक्षा का काम तो करता ही हैं साथ ही इसके कारण Product में अंतर बना रहता हैं। जब आप Register करते हैं तब आपके Product या Service के लिए Trademark के रूप में एक Symbol दिया जाता हैं।

उसके बाद ये Symbol ही आपके प्रोडक्ट या सर्विस की पहचान बन जाता हैं और जिसको आप अपने Product के लिए use कर सकते हैं।

Trademark की अवधि 10 साल होती हैं, इसके बाद फिर से Renew करवाना पड़ता हैं। Trademark Registration की Process online होती हैं।

Conclusion:

किसी भी Business या Invention को Secure रखने के लिए Trademark, Copyright और Patent कराना बहुत ही जरुरी होता हैं। इसके लिए जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी Apply कर देना चाहिए।

Apply करने के लिए आप Indian Government के Controller General of Patents, Design and Trademarks के यहाँ Register करवा सकते हैं।

Copyright आपकी पूरी जिंदगी भर के लिए Valid होता हैं। Patent की अवधि अधिकतम 20 साल के लिए होती हैं। इसके बाद इसे फिर से Renew करवाना होता हैं। Trademark की अवधि 10 साल होती हैं। इसके बाद फिर से Renew करवाना पड़ता हैं। Trademark Registration की Process ऑनलाइन होती हैं।

At Last:

इस आर्टिकल में आपने जाना कि कॉपीराइट क्या होता है, ट्रेडमार्क क्या है और पेटेंट क्या होता हैं और ये बिज़नेस के लिए क्यों जरुरी हैं? अगर आपको ये जानकारी पसंद आयी हो तो इसे share जरूर करें। यदि आपके कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे comment जरूर करें।

आप ये भी जरूर पढ़े:

Leave a Reply